होम राजनीति हार की कगार पर खड़े Donald Trump को क्या सुप्रीम कोर्ट से...

हार की कगार पर खड़े Donald Trump को क्या सुप्रीम कोर्ट से मिलेगी राहत, जानें यहाँ

अमेरिका का अगला राष्ट्रपति कौन होगा, इस पर अब तक सस्पेंस बरकरार है। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप कई बार कह चुके हैं कि वह अमेरिका में राष्ट्रपति पद के चुनाव में ‘धांधली’ के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाएंगे, लेकिन इस बार अदालत में उनकी राह आसान होने के आसार कम दिखाई दे रहे हैं। डोनाल्ड ट्रंप ने पिछले दो दिन में कई बार कहा है कि अदालत ने जिस प्रकार 2000 में चुनाव में हस्तक्षेप किया था, उसे इस बार भी ऐसा ही करना चाहिए। उस समय अदालत ने जॉर्ज डब्ल्यू बुश को विजेता घोषित किया था। अदालत में पांच न्यायाधीशों ने बुश के हक में और चार न्यायाधीशों ने उनके खिलाफ फैसला सुनाया था। इस समय सुप्रीम कोर्ट के छह सदस्य कंजरवेटिव हैं, जिनमें से तीन को ट्रंप ने नामित किया था।

अमेरिका में 2000 में हालात अलग थे। उस समय बुश फ्लोरिडा में आगे चल रहे थे और उन्होंने पुन: मतगणना रोकने के लिए अदालत का दरवाजा खटखटाया था। ट्रंप को अपने प्रतिद्वंद्वी एवं डेमोक्रेटिक उम्मीदवार जो बाइडेन को राष्ट्रपति बनने से रोकने के लिए सुप्रीम कोर्ट को दो या अधिक राज्यों में मतों को दरकिनार करने के लिए राजी करना होगा। जीफ जस्टिस जॉन रोबर्ट्स सरकार की राजनीतिक शाखाओं को अदालत से दूर रखने के पक्ष में हैं और उनका मानना है कि राजनीति अदालत की प्रतिष्ठा को ठेस पहुंचा सकती है।

दूसरी ओर चुनाव में धांधली का दावा करने वाले ट्रंप ने कहा है, ‘हम अमेरिकी सुप्रीम कोर्ट में जाएंगे।’ उन्होंने ट्वीट किया, ‘अमेरिकी सुप्रीम कोर्ट को फैसला करना चाहिए।’ इस बीच, बाइडेन व्हाइट हाउस में जीत के और करीब पहुंचते दिख रहे हैं। पेंसिल्वेनिया की अदालत ने मतों को प्राप्त करने और मेल के जरिए मिले मतों की गणना के लिए तीन अतिरिक्त दिन देने की अनुमति दे दी थी। ट्रंप ने इस फैसले का विरोध किया है।

मामला जारी रहने के बीच राज्य के शीर्ष चुनाव अधिकारी ने निर्देश दिया है कि शुक्रवार शाम पांच बजे तक आए मतों को अलग कर उनकी गणना की जाए। ट्रंप की प्रचार मुहिम और रिपब्लिकन नेताओं ने कई राज्यों में कानूनी चुनौतियां पेश की हैं, लेकिन इनमें से अधिकतर मुकदमे छोटे स्तर के हैं और उनसे अधिक मत प्रभावित नहीं होंगे।

ट्रंप और उनकी प्रचार मुहिम ने और भी कानूनी कार्रवाई करने की बात की है और चुनाव में धोखाधड़ी के आरोप लगाए हैं। दूसरी ओर, बाइडेन की प्रचार मुहिम ने मौजूदा मुकदमों को आधारहीन बताया है। फिलहाल, अब तक जो नतीजे सामने आए हैं, उसके हिसाब से डोनाल्ड ट्रंप पिछड़ गए हैं और जो बाइडेन जीत के करीब दिख रहे हैं। हालांकि, वोटों की गिनती अब भी जारी है।

Must Read

नितिन नेगी , आयु, कुल संपत्ति, परिवार, जीवनी और अधिक

नितिन नेगी एक भारतीय निर्माता, डिजिटल प्रमोटर, चमोली उत्तराखंड के निदेशक हैं, जिन्होंने खुद को एक पेशेवर डिजिटल मार्केटर के रूप में स्थापित किया...

Tips For Giving Medicines To Child: कहीं आप तो नहीं कर रहे हैं बच्चों को दवा देने में ये गलतियां?

बच्चे (Kids) जब बीमार हो जाते हैं तो माता-पिता की रातों की नींद उड़ जाती है. खासकर बदलते मौसम में बच्चे अचानक से बीमार...

Sarkari Naukri 2021: एम्स में 12वीं पास के लिए ऑपरेशन थिएटर असिस्टेंट की वैकेंसी, जानें योग्यता और सैलेरी

ब्रॉडकास्ट इंजीनियरिंग कंसल्टेंट्स इंडिया लिमिटेड (BECIL) ने एम्स, झज्जर के लिए ऑपरेशन थिएटर असिस्टेंस्ट के पदों के लिए आवेदन मांगे हैं.ऑपरेशन थिएटर असिस्टेंट पद...

Pakhi Hegde Upcoming Movie: खुद से 8 साल छोटे एक्टर Pradeep Pandey Chintu संग ‘रोमांस’ कर रहीं Pakhi Hegde

भोजपुरी एक्ट्रेस (Bhojpuri Actress) पाखी हेगड़े (Pakhi Hegde) आज सिनेमा जगत में किसी पहचान की मोहताज नहीं हैं. काफी लंबे समय के बाद वो एक बार...

Related News

Lakhimpur Kheri Incident: लखीमपुर खीरी मामले में चुप नहीं हो रहे भाजपा सांसद वरुण गांधी, जानें पूरा समीकरण

कभी किसान आंदोलन तो कभी लखीमपुर खीरी घटना को लेकर लगातार मुखर भाजपा के पीलीभीत सांसद वरुण गांधी का परोक्ष हमला रुक नहीं रहा...

Political Legacy Of Lalu: तेजस्‍वी और तेज प्रताप की लड़ाई में फंसी पार्टी और परिवार, जानें पूरा मामला

बिहार और देश की राजनीति में कभी सबसे शीर्ष नेताओं में शामिल लालू यादव आज एक बुरा दौर झेल रहे हैं। राजनीतिक सफर के...

Afghanistan, Opium और America के बीच क्या है रिश्ता, जानें यहाँ

अफगानिस्तान में तालिबान के सत्ता में आने के बाद से पूरी दुनिया इस्लामी आतंक का एक नया दौर शुरू होने की आशंका में जी...

5 से 10 साल में दूसरा Afghanistan बन जाएगा Kerala, जानें पूर्व केंद्रीय मंत्री KJ Alphons ने क्यों कही ये बात

पूर्व केंद्रीय मंत्री केजे अल्फोंस ने केरल में सत्तारूढ़ वाम लोकतांत्रिक मोर्चा (एलडीएफ) व विपक्षी संयुक्त प्रगतिशील मोर्चा (यूडीएफ) पर चरमपंथी संगठनों को बढ़ावा...

UP polls 2022: निष्कासित कांग्रेस नेताओं ने प्रियंका वाड्रा के नेतृत्व पर उठाए सवाल

पूर्व केंद्रीय मंत्री सलमान खुर्शीद ने सोमवार को कहा था कि प्रियंका गांधी वाड्रा राज्य चुनाव में पार्टी का चेहरा होंगी। उत्तर प्रदेश में विधानसभा...