मोदी जी ने गाजीपुर में कहा कि है कांग्रेस वाले तो फ़ाइल दबाते है।

0
85
Modiji said in Ghazipur that the Congress is pressurizing the Congress, be cautious.
Modiji said in Ghazipur that the Congress is pressurizing the Congress, be cautious.

Modi ji आज गाजीपुर रैली में कहते है कि उन्हें महाराजा सुहेलदेव के सम्मान में डाक टिकट जारी करने का सौभाग्य मिला। पीढ़ी दर पीढ़ी हम महाराजा सुहेलदेव के साहस और उनके दयालु स्वभाव को याद करते आ रहे हैं। उनका पूरा जीवन लोककल्याण को समर्पित रहा। विशेषकर गरीब से गरीब लोगों का उन्होंने सबसे अधिक ध्यान रखा।

उत्तर प्रदेश में सुहेलदेव का स्मारक बनाया जाएगा। वीरो का स्मारक उत्तर प्रदेश की सरकार को मोदी जी ने प्रोत्साहित कार्टर हुए कहा कि वह इस कदम से बेहद खुश है।

उन्होंने गाजीपुर रैली में सभी लोगो को उनकी ही भाषा मे संबोधित किया।

उन्होंने यह भी कहा कि गाजीपुर में मेडिकल कॉलेज, पूर्वांचल को हेल्थकेयर हब बनाने की दिशा में एक बड़ा प्रयास किया जा रहा है। हमारी कोशिश है कि पूर्वांचल के हमारे भाई-बहनों को उसी क्षेत्र में गुणवत्तापूर्ण और सस्ते से सस्ता उपचार मिले।

वह यह भी कहते है कि करीब 250 करोड़ की लागत में तैयार हुए कॉलेज अस्पताल में 300 बेड भी होंगे इस अस्पताल में सभी नागरिक अपना इलाज करा सकेंगे।गाज़ीपुर के साथ साथ आसपास के जिलो को भी फायदा होगा।

Pm के मुताबिक Up सरकार पिछले तबके के लोगों को भी मौका दे रही है ताकि वे समाज मे उठ सके।

उन्होंने कहा कि कोर्ट कचहरी में जहाँ समय लगता था। वह परम्परा अब टूट चुकी है।

हर व्यक्ति की सुनवाई होगी बड़ा,छोटा नही देखा जाएगा।
सरकार और भी बहुत कुछ करेगी आने वाले सालों में up के गाजीपुर में डॉक्टर के साथ साथ आधुनिक चिकित्सा भी मोहिया कराई जाएगी।

उन्होंने oppostion party पर व्यंग भी कसा कहा कि 6लाख crore का कर्ज तो माफ नही हुआ और किसानों को टाल दिया गया।

मोदी जी ने गाजीपुर में कहा कि फ़ाइल दबाते है कांग्रेस वाले तो सतर्क रहें।

मोदी जी ने यह भी बोला 60 हजार crore ही माफ कर पाई उसमे भी घोटाला था। CAG की रिपोर्ट के अनुसार घोटाला बहुत बड़ी रकम 35 लाख तो सिर्फ उन लोगो के घर गयी जो न तो किसान थे और न ही कर्जदार थे।

जनता के रुपयो का घोटाला हो गया। यहाँ तक कि जिनका कर्ज माफ किया गया उन्हें certificate तक नही दिया गया।जिस कारण किसानो को कर्जब्याज के साथ देना पड़ा। और तो और वह भी डिफॉल्टर हो गए जिस कारण उन्हें अधिक ब्याज दर में private में जाना पड़ा।

कांग्रेस की सरकार ने तो swaminathan आयोग की सिफारिश तक को लागू नही किया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.