होमदुनियानौकरी करने वाले भी सिर्फ 10 हजार रुपये में शुरू कर सकते...

नौकरी करने वाले भी सिर्फ 10 हजार रुपये में शुरू कर सकते हैं ये बिजनेस, जानें पूरा समीकरण

आज हम आपको एक ऐसे बिजनेस आइडिया (Business Idea) के बारे में बताएंगे, जिसके जरिए आप घर बैठे आसानी से 50 हजार रुपये महीना कमा सकते हैं. बता दें कि केंद्र सरकार की तरफ से मोटर व्हीकल एक्ट (Motor Vehicles Act) लागू किया जिसके कारण अभी तक प्रदूषण जांच केंद्र (Pollution Testing Center) का बिजनेस काफी तेजी से बढ़ रहा है.

नये मोटर व्हीकल एक्ट में पॉल्यूशन सर्टिफिकेट नहीं होने पर भारी जुर्माना लगता है, जिसके कराण हर एक नागरिक को गाड़ी या बाइक या दोपहिया वाहन के पॉल्यूशन सर्टिफिकेट (PUC) डॉक्यूमेट की जरूरत पड़ती है.

PUC है जरूरी

अगर कोई व्यक्ति ड्राइव कर रहा हो और उसके पास पॉल्यूशन सर्टिफिकेट (PUC) डॉक्यूमेट न हो तो उस पर 10,000 रुपये का जुर्माना लगता है. हर छोटे से लेकर बड़े वाहन को पॉल्यूशन सर्टिफिकेट डॉक्यूमेट लेना होता है. ऐसे में अगर आप अपना बिजनेस प्लान कर रहें हैं तो आपे पास अच्छा मौका है. आप Pollution Testing Center को खोलकर अच्छी कमाई कर सकते हैं.

हर महीने होगी 50 हजार तक की कमाई

Pollution Testing Center बिजनेस को शुरू कर आप हर महीने 50 रुपये तक कमा सकते हैं. इसके लिए आपको केवल 10 हजार रुपये इन्वेस्ट करने होंगे, जिसके बाद आप तुरन्त प्रदूषण जांच केंद्र शुरू कर सकते हैं. इस बिजनेस में पहले ही दिन से आपकी कमाई शुरू हो जाएगी. इस बिजनेस में रोजाना 1 2 हजार रुपये कमाए जा सकते हैं. यानी आप हर महीने 30 हजार से 50 हजार रुपये तक कमा सकते हैं.

यहां करना होगा अप्लाई

>> प्रदूषण जांच केंद्र ओपन करने के लिए सबसे पहले लोकल ट्रांसपोर्ट ऑफिस (RTO) से लाइसेंस लेना होगा.
>> नजदीकी RTO ऑफिस में इसके लिए अप्लाई करना होगा.
>> प्रदूषण जांच केंद्र पेट्रोल पंप, ऑटोमोबाइल वर्कशॉप के आसपास खोला जा सकता है.
>> इसके लिए अप्लाई करने के साथ ही 10 रुपये का एफिडेविट देना होगा.

देने होंगे ये डॉक्यूमेंट्स

>> लोकल अथॉरिटी से No Objection Certificate लेना होगा.
>> Pollution Testing Center की हर राज्य में अगल अलग फीस है. कुछ राज्यों में ऑनलाइन भी अप्लाई कर सकते हैं.

केंद्र खोलने के नियम

>> प्रदूषण जांच केंद्र पहचान के रूप में पीले रंग के केबिन में ही खोला जा सकता है. ताकि, उसे अलग पहचान मिले.
>> केबिन का साइज लंबाई 2.5 मीटर, चौड़ाई 2 मीटर, ऊंचाई 2 मीटर होनी चाहिए
>> प्रदूषण केंद्र सेंटर पर लाइसेंस नंबर लिखना जरूरी है.

ये लोग खोल सकते हैं Pollution Testing Center

Pollution Testing Center खोलने के लिए मोटर मैकेनिक्स, ऑटो मैकेनिक्स, स्कूटर मैकेनिक्स, ऑटोमोबाइल इंजीनियरिंग, डीजल मैकेनिक्स या फिर इंडस्ट्रियल ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट (ITI) से प्रमाणित सर्टिफिकेट होना चाहिए. आपको स्मोक एनालाइजर खरीदना होगा.

Anoj Kumar
Anoj Kumar a Indian Journalist & Founder Of Hnews

Must Read

Related News