होमराजनीतिHanuman Chalisa Controversy: सांसद Navneet Rana और उनके पति Ravi Rana...

Hanuman Chalisa Controversy: सांसद Navneet Rana और उनके पति Ravi Rana को मुंबई पुलिस ने किया गिरफ्तार

महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे के निजी निवास मातोश्री के बाहर हनुमान चालीसा का पाठ करने पर अड़ीं महाराष्ट्र के अमरावती क्षेत्र की निर्दलीय सांसद नवनीत राणा और उनके विधायक पति रवि राणा को शनिवार शाम पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। फिलहाल, दोनों को को खार पुलिस थाने में रखा गया है। उन्हें रात थाने में ही बितानी पड़ सकती है। राणा दंपती द्वारा मातोश्री के बाहर हनुमान चालीसा पढ़ने की घोषणा के बाद से मुंबई का माहौल तनावपूर्ण हो गया था। शिवसैनिकों ने रात में ही जहां मातोश्री के बाहर डेरा डाल दिया, वहीं शनिवार सुबह खार इलाके में स्थित राणा दंपती के घर के बाहर जमा होकर नारेबाजी शुरू कर दी। शिवसैनिक बैरीकेडिंग तोड़ राणा के इमारत में भी जा घुसे। हालांकि पुलिस ने उन्हें राणा दंपती के घर तक नहीं पहुंचने दिया।

राणा दंपती ने देर शाम निर्णय बदला, वैमनस्य फैलाने के आरोप में गिरफ्तारी

शनिवार शाम नवनीत राणा व रवि राणा ने घोषणा की कि चूंकि रविवार को प्रधानमंत्री मुंबई आ रहे हैं। इसलिए कानून-व्यवस्था की स्थिति शांतिपूर्ण बनाए रखने के लिए हमने अपना निर्णय टाल दिया है। राणा की इस घोषणा के कुछ ही देर बाद मुंबई पुलिस की एक टीम ने उनके घर पहुंचकर दोनों को हिरासत में ले लिया। पुलिस ने कहा कि राणा दंपती को दो समुदायों के बीच वैमनस्य फैलाने के आरोप में धारा 153 (ए) और मुंबई पुलिस एक्ट की धारा 135 के तहत गिरफ्तार किया गया है। उल्लेखनीय है राणा दंपती ने कुछ दिन पहले कहा था कि उद्धव को हनुमान जन्मोत्सव पर अपने घर मातोश्री में चालीसा का पाठ करना चाहिए। साथ ही, कहा कि वे यदि पाठ नहीं करेंगे तो हम उनके घर जाकर पाठ करेंगे। शनिवार को दिन भर जो घमासान मचा वह उसी कड़ी में था।

देवेंद्र फड़नवीस ने महाराष्ट्र सरकार पर साधा निशाना

महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री व विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष देवेंद्र फड़नवीस ने नागपुर में पत्रकारों से कहा है कि इस मामले में महाराष्ट्र सरकार का रवैया बहुत बचकाना रहा। यदि सरकार राणा दंपती को अनुमति दे देती, तो वे चुपचाप पाठ करके चले जाते और कोई खबर भी नहीं बनती। शिवसैनिक शनिवार से ही मातोश्री के सामने बड़ी संख्या में डेरा डाले हुए थे। उनका कहना था कि राणा दंपती यहां आया तो ‘महाप्रसाद’ लिए बिना वापस नहीं जाएगा। शिवसेना प्रवक्ता संजय राउत ने राणा दंपती को ‘बंटी और बबली’ करार देते हुए तंज कसा था कि ये लोग भाजपा के इशारे पर नौटंकी कर रहे हैं। गृहमंत्री दिलीप वलसे पाटिल ने इस प्रकरण को गैरजरूरी बताते हुए कहा कि राणा दंपती को अपने घर में पाठ करना चाहिए। दूसरी ओर, भाजपा नेताओं की ओर से भी तीखी टिप्पणियां आ रही हैं। भाजपा नेता किरीट सोमैया ने कहा है कि वे खार पुलिस थाने जाएंगे।

शिवसैनिकों का भाजपा नेता मोहित कांबोज पर भी हमला

राणा दंपती के विवाद के बीच भाजपा नेता मोहित कांबोज को भी शिवसैनिकों के गुस्से का शिकार होना पड़ा। मोहित कांबोज शुक्रवार रात बांद्रा में एक विवाह समारोह से लौट रहे थे। उनकी गाड़ी जैसे ही ठाकरे के घर मातोश्री के सामने से गुजरी, वहां जमा शिवसैनिकों ने हमला बोल कर उनकी गाड़ी तोड़ दी।पुलिस को दी लिखित शिकायत में कांबोज ने आरोप लगाया है कि ठाकरे उनकी हत्या करवाना चाहते थे। कलानगर सिग्नल पर जैसे ही मेरी गाड़ी रुकी, सैकड़ों लोगों ने गाड़ी पर हमला कर दिया। वहीं, शिवसैनिकों की तरफ से दी गई शिकायत में कहा गया है कि कांबोज सीएम के निजी निवास के बाहर गाड़ी रोककर वहां की रेकी कर रहे थे। उनकी गाड़ी में हाकी स्टिक व अन्य हथियार रखे थे। बांद्रा पुलिस ने कहा है कि दोनों तरफ से शिकायत मिली है। कांबोज इस हमले के संदर्भ में शनिवार को मुंबई भाजपा अध्यक्ष मंगल प्रभात लोढ़ा एवं कुछ अन्य भाजपा नेताओं के साथ पुलिस आयुक्त संजय पांडे से भी मिले। मोहित ने एक ट्वीट में कहा है कि शनिवार रात उनकी हत्या की कोशिश की गई लेकिन अभी तक प्राथमिकी दर्ज नहीं की गई।

Badshah Dhiraj
Badshah Dhiraj
Badshah Dhiraj is a well-known journalist in the world of journalism, who spends his valuable time writing for our platform.

Must Read

Related News