होमलाइफस्टाइलFlu Pandemic: कोविड-19 से कहीं ज़्यादा खतरनाक हो सकती है फ्लू महामारी

Flu Pandemic: कोविड-19 से कहीं ज़्यादा खतरनाक हो सकती है फ्लू महामारी

कोरोना वायरस महामारी जब से चीन के शहर वुहान में शुरू हुई है तब से दुनियाभर करीब 5 मिलियन लोगों को अपना शिकार बना चुकी है। ऊपरी श्वसन प्रणाली की अत्यधिक संक्रामक बीमारी अभी भी म्यूटेट हो रही है, जो कभी भी कोरोना महामारी की एक और लहर के लिए ख़तरा बनी हुई है। हालांकि, संक्रामक रोग विशेषज्ञों के अनुसार, वैश्विक फ्लू का प्रकोप अभी भी कोविड-19 की तुलना में मनुष्यों के लिए एक “गंभीर और वास्तविक” जोखिम बना हुआ है।

फ्लू महामारी पर क्या है एक्सपर्ट्स की राय

मिनेसोटा विश्वविद्यालय में संक्रामक रोग अनुसंधान और नीति केंद्र के निदेशक, प्रोफेसर माइकल ऑस्टरहोल का कहना है कि एक वैश्विक स्तर पर फ्लू महामारी कै फैलना बेहद गंभीर और कुल मृत्यु संख्या के मामले में कोविड से बदतर हो सकता है। यह पहले छह महीनों में लगभग 33 मिलियन लोगों को मार सकता है, जो कि कोरोनावायरस महामारी के दौरान हुई कुल जानों से लगभग 6 गुना अधिक है। उन्होंने कहा कि कोविड​​​​-19 से पहले, इन्फ्लूएंज़ा मनुष्यों के लिए सबसे बड़ा ख़तरा बना हुआ था, जो अब भी बदला नहीं है।

इन्फ्लूएंज़ा महामारी कैसे ज़्यादा ख़तनाक है?

Flu Pandemic

दोनों कोविड-19 और इंफ्लूएंज़ा ऊपरी श्वसन प्रणाली की संक्रामक बीमारी, जिसकी वजह से बुख़ार, खांसी, कमज़ोरी, सांस लेने में तकलीफ और शरीर में दर्द जैसे लक्षण नज़र आते हैं। यह लक्षण अलग-अलग वायरस की वजह से हो सकते हैं, लेकिन गंभीर मामलों में दोनों बीमारियों से निमोनिया हो सकता है।

मौसमी इन्फ्लूएंज़ा (फ्लू) वायरस के साल भर मामले आते हैं, फ्लू के मामले सर्दियों के दौरान आम हैं। इसके अलावा ऐसे कई तरह के फ्लू हैं, जो कोविड-19 से ज़्यादा संक्रामक और ख़तरनाक हैं, जिसकी वजह से लोगों की जानें भी जाती हैं। फ्लू वायरस जहां काफी पुरानी बीमारी है, वहीं, कोविड हाल ही में आई है, जिसके बारे में लोग अब भी जान रहे हैं।

कैसे बचाएं ख़ुद को

दोनों फ्लू और कोविड-19 ऊपरी श्वसन प्रणाली के संक्रमण हैं, जो संक्रमित व्यक्ति द्वारा खांसने, छींकने या बात करने के दौरान छोड़े गए एरोसोल ड्रॉपलेट्स के माध्यम से एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में फैलता है। इसलिए, कुछ चीज़ें जो सभी को कोविड और फ्लू दोनों से बचाने के लिए करने की आवश्यकता है, वह है उचित स्वच्छता बनाए रखना, छींकते समय मुंह को ढंकना और नियमित रूप से हाथ धोना। दूसरा, कोविड-19 और फ्लू दोनों के लिए टीका लगवाएं।

Anoj Kumar
Anoj Kumar a Indian Journalist & Founder Of Hnews

Must Read

Related News