होमHeadlinesCryptocurrency Ban In India: बैन लगा तो आपकी क्रिप्टोकरेंसी का क्या होगा?

Cryptocurrency Ban In India: बैन लगा तो आपकी क्रिप्टोकरेंसी का क्या होगा?

अगर आप भी क्रिप्टोकरेंसी (Crypto Currency) में निवेश करने में रुचि रखते हैं या इसमें पैसा लगाया है तो ये खबर आपके बेहद काम की है. दरअसल, भारत सरकार जल्द ही Crypto Currency पर पूरी तरह से प्रतिबंध लगाने वाली है. 26 नवंबर से शुरू हो रहे संसद के शीतकालीन सत्र (Winter Session) में केंद्र सरकार 26 नए बिल को पेश करेगी, जिसमें तीन अध्यादेश भी शामिल है. मंगलवार शाम को शीतकालीन सत्र के लिए जारी लेजिस्लेटिव एजेंडा से यह जानकारी मिली है.

इसमें सबसे अधिक जिस बिल पर लोगों की नजर टिकी है, वह क्रिप्टोकरेंसी बिल (Cryptocurrency Bill) है. क्या मोदी सरकार क्रिप्टोकरेंसी को बैन करेगी, या कुछ प्रतिबंधों के साथ इसमें ट्रेडिंग की इजाजत देगी? यह सब कुछ बिल आने के बाद ही पता चल सकेगा. क्रिप्टोकरेंसी से जुड़े बिल का नाम ‘द क्रिप्टोकरेंसी एंड रेगुलेशन ऑफ ऑफिशियल डिजिटल करेंसी बिल, 2021’ है.

अगर लगा बैन तो जानें क्या होगा आपको क्रिप्‍टोकरेंसी का?

जेरोधा के सह-संस्थापक निखिल कामत ने ट्विटर पर एक ट्वीट कर कहा, अगर सरकार इस पर प्रतिबंध लगाने का फैसला करती है तो क्रिप्टोकरेंसी का क्या होगा?

ऐसा माना जा रहा है कि यह बिल बिटकॉइन सहित दूसरी क्रिप्टो में निवेश करने वालों के लिए नई परेशानी खड़ी कर सकता है. उन्होंने कहा कि अगर सरकार क्रिप्टो पर प्रतिबंध लगाने का फैसला करती है, तो बैंक और आपके क्रिप्टो एक्सचेंजों के बीच लेनदेन बंद हो जाएगा. आप कोई क्रिप्टो खरीदने के लिए अपनी स्थानीय मुद्रा को परिवर्तित नहीं कर पाएंगे. इसके साथ ही आप उन्हें भुना भी नहीं पाएंगे.

दुनियाभर में 7 हजार से ज्यादा सिक्के हैं चलन में

इस समय पूरी दुनिया में 7 हज़ार से ज्यादा अलग-अलग Crypto Coins चलन में हैं. ये एक प्रकार के डिजिटल सिक्के हैं, जबकि वर्ष 2013 तक दुनिया में सिर्फ एक ही क्रिप्‍टोकरेंसी थी BitCoin. इसे साल 2009 में लॉन्च किया गया था. बिटकॉइन आज भी भारत समेत पूरी दुनिया में सबसे लोकप्रिय है.

RBI द्वारा जारी की जाने वाली डिजिटल करेंसी की होगी चर्चा

बिल में RBI द्वारा जारी किए जाने वाले डिजिटल करेंसी की भी चर्चा हो सकती है. समिति की बैठक से कुछ दिन पहले PM मोदी ने भी विभिन्न मंत्रालयों और रिजर्व बैंक के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ क्रिप्टोकरेंसी के मुद्दे पर चर्चा की थी.

Anoj Kumar
Anoj Kumar a Indian Journalist & Founder Of Hnews

Must Read

Related News