73 फीसदी लोग भरोसा करते हैं, मोदी के दौरान राष्ट्रीय सुरक्षा को कोई खतरा नहीं है

0
29
<pre>73 फीसदी लोग भरोसा करते हैं, मोदी के दौरान राष्ट्रीय सुरक्षा को कोई खतरा नहीं है

कांग्रेस राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्र सरकार पर हमला करना जारी रख सकती है, लेकिन देश के 73 प्रतिशत लोगों को अभी भी पीएम नरेंद्र मोदी पर अधिक भरोसा है। सी वोटरों के हालिया सर्वेक्षण में सर्वेक्षण में शामिल केवल 14.4 प्रतिशत लोगों ने राहुल गांधी पर भरोसा जताया है।

सर्वेक्षण के अनुसार, 73.6 प्रतिशत भारतीयों का मानना ​​है कि केवल भाजपा नीत राजग सरकार ही चल रहे विवाद को निपटाने में सक्षम है। चीन के साथ। वहीं, केवल 16.7 प्रतिशत लोगों ने इस विवाद पर विपक्ष के रुख का समर्थन किया। जबकि 9.6 प्रतिशत का मानना ​​है कि न तो सरकार और न ही विपक्ष चीन से निपटने में सक्षम है।

हालांकि, 60 प्रतिशत का मानना ​​है कि चीन को उचित जवाब नहीं दिया गया है
चीन के खिलाफ उचित कार्रवाई की गई या नहीं, इसके जवाब में, 60 प्रतिशत ने कहा कि चीन को उचित प्रतिक्रिया नहीं दी गई। उन्हें लगता है कि सैनिकों की शहादत का बदला अभी पूरा नहीं हुआ है। इसी समय, 39 प्रतिशत को लगता है कि गालवान घाटी में 20 सैनिकों की मौत के बाद केंद्र सरकार ने चीन के खिलाफ कड़ा रुख अपनाया है और सही कदम उठाए हैं।

68 प्रतिशत चीन को पाकिस्तान से भी बड़ा खतरा मानते हैं।
सर्वे में 68 प्रतिशत देशवासियों ने चीन को पाकिस्तान से भी बड़ा खतरा बताया है। उनके अनुसार, चीन अधिक खतरनाक पड़ोसी है। वहीं, 32 प्रतिशत का मानना ​​है कि पाकिस्तान देश के लिए एक बड़ी समस्या है। सर्वेक्षण में 68 प्रतिशत लोगों को लगता है कि देश के लोग चीनी सामानों का बहिष्कार करने में सक्षम होंगे, जबकि 31 प्रतिशत लोगों का मानना ​​है कि लोग चीनी सामान खरीदना जारी रखेंगे।

61 प्रतिशत लोगों को राहुल पर बिल्कुल भरोसा नहीं है।
ज्यादातर लोग पीएम मोदी और राहुल गांधी के बीच अपना नेता चुनने के लिए मोदी की ओर झुके हुए थे। लगभग 61 प्रतिशत लोगों ने कहा कि उन्हें राहुल गांधी पर बिल्कुल भी भरोसा नहीं है। हालांकि, राहुल सरकार पर राजनयिक मोर्चे पर विफल रहने का आरोप लगाते रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here