केंद्र सरकार ने दिए आदेश जो लॉकडाउनन का पालन ना करें, पुलिसकर्मियों और स्वास्थ्य कर्मियों के साथ बुरा सलूक करें उन्हें जेल में डाल दिया जाए और उन पर कड़ी कार्यवाही की जाए

0
220

केंद्र सरकार ने दिए आदेश जो लॉकडाउनन का पालन ना करें, पुलिसकर्मियों और स्वास्थ्य कर्मियों के साथ बुरा सलूक करें उन्हें जेल में डाल दिया जाए और उन पर कड़ी कार्यवाही की जाए

बीते कुछ दिनों से पुलिसकर्मियों और स्वास्थ्य कर्मियों पर लगातार हमलों की घटनाएं  सामने आ रही है सोशल मीडिया पर जिन्हें योद्धा के नाम से लोग पुकार रहे हैं उन्हीं योद्धाओं को लोग पीट-पीटकर भगा रहे हैं उन्हें मार रहे हैं उन पर पत्थर फेंक रहे हैं उनको लाठियों से पीट रहे हैं उन पर थूक रहे हैं उनको गालियां दे रहे हैं यह हम लोगों के लिए बहुत शर्मिंदगी की बात है की हम उन लोगों को मार रहे हैं जो हमारी रक्षा करने के लिए आगे आ रहे हैं जो हमें कोरोनावायरस से बचाने के लिए जद्दोजहद कर रहे हैं जो हमारे लिए अपने मां-बाप बीवी बच्चों अपने परिवार को छोड़ कर हमारी सेवा कर रहे हैं हम उनके साथ बदसलूकी कर रहे हैं कहां गई लोगों की इंसानियत?

पुलिसकर्मी जो हम सबको लॉकडाउन का पालन करना सिखा रहे हैं लॉक डाउन जो हमारी सुरक्षा के लिए किया गया है क्योंकि जितना हम घर में रहेंगे हम उतना ही कोरोनावायरस से बचे रहेंगे यह हमें और आप दोनों को पता है लेकिन जिनको यह नहीं पता उनको बताना या फिर उनको समझाना क्या गलत है लेकिन कुछ लोग ऐसे भी हैं जिनको पता है और समझ में भी आ रहा है लेकिन फिर भी वह लोग बिना किसी कारण के घरों से बाहर निकल रहे हैं ऐसे लोगों को फिर बातों से नहीं समझाया जा सकता है यहलेकियह सब कुछ जानते हुए भी हम लोग क्या कर रहे हैं पुलिसकर्मियों को भी मार पीट रहे हैं उन पर थूक रहे हैं इनको गालियां दे रहे हैं.

स्वास्थ्य कर्मी यानी कि डॉक्टर और नर्स जिन्हें हम लोग भगवान मानते हैं उनके हाथ में मरीज की जिंदगी होती है वो जितना हो सके मरीज को बचाने की कोशिश करते हैं कोरोनावायरस जो कि एक संक्रामक बीमारी है जो डॉक्टर को भी पता है कि उन्हें भी हो सकती है लेकिन फिर भी वह आम जनता की सेवा के लिए अपनी जिंदगी को दांव पर लगाकर हमारा इलाज कर रहे हैं और बदले में हम लोग क्या कर रहे हैं उन पर थूक रहे हैं उन को पीट रहे हैं उनको मार रहे हैं उनके साथ बदसलूकी कर रहे हैं

इन सब को देखते हुए केंद्र सरकार ने कड़े कदम उठाए हैं जो भी व्यक्ति स्वास्थ्य कर्मियों व पुलिसकर्मियों दुर्व्यवहार करें या फिर उनके साथ बदसलूकी करें तो उन्हें जेल में डाल दिया जाए और उन पर कड़ी कार्यवाही की जाए सरकार का यह कदम सराहनीय है। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here